जीवन का विलोम शब्द क्या है। Jivan ka Vilom Shabd [2023]

Jivan ka vilom shabd : हम जीवन का विलोम शब्द देखें तो हमें ‘मृत्यु’ मिलता है। जीवन और मृत्यु, ये दोनों ही मानव जीवन के महत्वपूर्ण पहलु हैं। Jivan ka vilom shabd ‘मृत्यु’ है न केवल शब्दों के अर्थ को बदलता है, बल्कि यह हमें जीवन के अस्तित्व की अद्भुतता को भी समझाता है।

इस प्रकार, जीवन का विलोम शब्द हमें भाषा के माध्यम से जीवन की महत्वपूर्णता और उसके विविध पहलुओं को समझाने में मदद करता है।

विलोम शब्द किसे कहते है? – vilom shabd kise kehte hain 

विलोम शब्द वो शब्द होते हैं जिनका अर्थ दिए गए शब्द के बिलकुल उल्टा होता है। इन शब्दों का उपयोग विपरीतार्थकता या विरुद्धार्थकता को स्पष्ट करने में होता है, ताकि वाक्य का मतलब स्पष्ट हो सके।

उदाहरण के लिए, ”अच्छा” शब्द का विलोम शब्द ”बुरा” होता है। इसका मतलब है कि ”अच्छा” सकारात्मक या पॉजिटिव होता है, जबकि ”बुरा” नकारात्मक या नेगेटिव होता है। इसी तरह, एक और उदाहरण में ”सफल” का विलोम ”असफल” होता है और ”उप” का विलोम ”नीचे” होता है

जीवन का विलोम शब्द क्या है? -opposite word of jivan

शब्द विलोम शब्द – विपरीतार्थी शब्द

जीवन – मृत्यु, मरण
Jivan – Maran, Mratyu
Life – Death

जीवन का विलोम शब्द संस्कृत में 

“जीवन” का विलोम शब्द संस्कृत में मरण होता है।

जीवन का अर्थ – jeevan ka arth

जीवन का अर्थ है हमारा जीवन, वो सबकुछ जो हम रोज़मर्रा करते हैं और जिसका हमारे जीवन में महत्व होता है। यह हमारा जन्म से लेकर मरण तक का सफर होता है, हमारे जीवन के सभी काम और घटनाओं का संग्रह है, जैसे कि हमारे साथ होने वाले सभी अनुभव, गतिविधियां, और घटनाएं। जीवन हमारे लिए अद्वितीय होता है और हमारी प्राणिकता और चेतना का प्रतीक होता है।

See also  अमृत का विलोम शब्द क्या है ?Amrit ka vilom shabd in hindi [2023]

मरण का अर्थ- meaning of death

मरण का अर्थ होता है किसी के जीवन का अंत, जिसका मतलब है कि वह जीवन में नहीं रहता। यह एक प्राकृतिक प्रक्रिया है, जिसमें जीवन का समापन होता है और व्यक्ति या प्राणी की चेतना समाप्त हो जाती है, और उनका शरीर भी काम करने की क्षमता खो देता है। इसका आने वाला होना एक अवश्यक भाग है जिसे हर जीवन को एक दिन अनुभव करना होता है।

जीवन विरुद्धार्थी शब्द मराठी

जीवन विरुद्धार्थी शब्द मराठी मृत्यु: 

ज वर्ण से अन्य महत्वपूर्ण विलोम शब्द 

ज वर्ण से अन्य महत्वपूर्ण विलोम शब्द नीचे दिए गए हैं :

जंगम का विलोम – स्थावर

जंगली का विलोम – पालतू

जटिल का विलोम – सरस

जड़ का विलोम – चेतन

जन्म का विलोम – मृत्यु

जय का विलोम – पराजय

जल का विलोम – थल

जल्दी का विलोम – देरी

जवानी का विलोम – बुढ़ापा

जागरण का विलोम – निद्रा

जागृति का विलोम – सुषुप्ति

जाग्रत का विलोम – सुप्त

जाति का विलोम – विजाति

जीवन का विलोम – मृत्यु

जीवित का विलोम – मृत

जेय का विलोम – अजेय

जोड़ का विलोम – घटाव

ज्यादा का विलोम – कम

और पढ़े-उदय का विलोम शब्द । Uday ka vilom shabd [2023] । vilom shabd

उन्नति का विलोम शब्द । Unnati ka vilom shabd [2023] । Vilom shabd

विशाल का विलोम शब्द । Vishal ka vilom shabd । vilom shabd [2023]

जीवन शब्द का वाक्य में प्रयोग – jeevan ka vakya prayog hindi mein

जीवन एक अनमोल उपहार है जो हमें खुशियों का आनंद देता है।

जीवन का मार्ग अवसरों से भरपूर होता है, हमें सिर्फ पहचानना होता है।

व्यस्ततम जीवन भी खुद को स्वीकारने की कला सिखाता है।

सफल जीवन के लिए उत्साह और मेहनत दोनों ही आवश्यक हैं।

जीवन के हर एक पल को खुशियों से भर देने की कला सीखनी चाहिए।

हमें जीवन की महत्वपूर्ण मोमेंट्स का आनंद उठाना चाहिए, क्योंकि ये कभी नहीं वापस आते।

जीवन की सबसे बड़ी सिख है कि हमें अपने सपनों की पुरी कोशिश करनी चाहिए।

प्रेम और समझदारी के साथ बिताया गया जीवन सफलता की ऊँचाइयों तक पहुंचाता है।

See also  prashansa ka vilom shabd । प्रशंसा का विलोम शब्द [2023]

जीवन के मार्ग पर अगर हम अपने लक्ष्यों की ओर दृढ़ता से बढ़ते रहें, तो सफलता अवश्य मिलेगी।

जीवन में आने वाली चुनौतियों से डरना नहीं, बल्कि उन्हें पार करने के लिए तैयार रहना चाहिए।

जीवन उसे खुशियों से भरना चाहिए जिसने संघर्षों का सामना किया है।

जीवन में सफलता पाने के लिए मेहनत, समर्पण, और दृढ़ संकल्प जरूरी होते हैं।

हमें अपने जीवन को खुद अपने हाथों में लेना चाहिए और उसे बेहतर बनाने के लिए काम करना चाहिए।

जीवन के सभी पलों को सद्गुणों से भरने से ही हम सही दिशा में बढ़ सकते हैं।

जीवन एक अनुपम उपहार है, हमें इसकी कदर करनी चाहिए और उसका सदुपयोग करना चाहिए।

जीवन की यात्रा में हमें सफलता के साथ हार और उत्तराधिकार के साथ प्रतिस्थान करना आता है।

जीवन में हमें आत्मविश्वास बनाए रखना चाहिए, क्योंकि यह हमें हर मुश्किल को पार करने में मदद करता है।

जीवन के सफर में हमें आत्म-समर्पण और परिश्रम से हमेशा परिपूर्ण बने रहना चाहिए।

जीवन का सही मार्ग चुनने से हम अपने लक्ष्यों की प्राप्ति में सफल हो सकते हैं।

जीवन का महत्वपूर्ण हिस्सा होते हैं हमारे संबंध, जो हमें सफलता की ओर आगे बढ़ने में मदद करते हैं।

जीवन के विलोम शब्द ‘मृत्यु’ एवं ‘मरण’ का 15 वाक्य में प्रयोग

जीवन में हम सभी को एक दिन ‘मृत्यु’ का सामना करना होता है।

‘मृत्यु‘ एक प्राकृतिक प्रक्रिया है, जो हम सभी को अपनी कदर करने की याद दिलाती है।

जीवन और ‘मृत्यु’ के बीच की संघर्षशील यात्रा बहुत रोचक होती है।

वेदों में ‘मृत्यु’ को एक परिवर्तन की प्रक्रिया माना गया है, जो हमारे आत्मा को नये जीवन में ले जाता है।

‘मृत्यु’ के आगमन से हमें यह याद दिलाता है कि जीवन की अनमोलता को समझना और महत्वपूर्ण काम करना जरूरी है।

‘मृत्यु’ का समय किसी के भी हाथ में नहीं होता, यह सिर्फ ईश्वर की मर्जी पर निर्भर करता है।

हमारे शास्त्रों में ‘मरण’ को जीवन के अगले पड़ाव की शुरुआत माना गया है।

‘मरण’ सिर्फ शरीर की मौत नहीं होती, बल्कि यह आत्मा के नए संसार में जाने की यात्रा होती है।

योगियों का मानना है कि ‘मरण’ से भी आत्मा का पारगमन होता है और वह अनंत शांति प्राप्त करती है।

See also  उपकार का विलोम शब्द क्या है ? Upkar ka Vilom Shabd [2023]

‘मरण’ वह अंतिम सत्र है जिसमें हम सभी अपने कर्मों के आधार पर फल पाते हैं।

कुछ धार्मिक आधारों पर ‘मरण‘ को जन्म-मरण के चक्र का एक हिस्सा माना जाता है।

‘मरण’ के बाद भी आत्मा का संवाद अपने प्रियजनों के साथ बना रहता है, यह अदूर नहीं होता।

‘मरण’ की याद हमें समझाती है कि हमें यहाँ आये हुए समय को कैसे उपयोग करना चाहिए।

ध्यानी लोग ‘मरण’ को आत्मा के नये पर्याय में जाने का एक अवसर मानते हैं।

‘मरण’सिर्फ शरीर की समाप्ति नहीं होती, बल्कि आत्मा के नए संसार में जाने की एक नयी प्रारंभ

जीवन और मरण की कहानी

यह कहानी है एक अद्वितीय जीवन की, जिसका विलोम शब्द “मरण” है।

एक छोटे से गाँव में एक बुढ़िया जी रही थी, जिनका नाम राजमा था। वह बहुत ही समझदार और आत्म-उपयोगी थी। वह गाँव के सभी लोगों की सेवा करती थी और उनकी मदद करने का काम करती थी।

राजमा का जीवन बहुत ही सफल और सात्विक था। वह हमेशा दूसरों के लिए समर्पित रही और आत्म-संतुष्ट थी। उसके जीवन का मार्ग दूसरों के लिए प्रेरणास्पद था, और वह सबको सिखाती कि जीवन को सफलता की दिशा में नहीं, बल्कि सेवा और संयम में मापना चाहिए।

जब राजमा की आयु आगे बढ़ी, तो उसके जीवन का मरण आया। लेकिन वह इसे एक प्राकृतिक प्रक्रिया के रूप में स्वागत करने का निर्णय लिया और शांति और समाधान के साथ अंत की ओर बढ़ी।

राजमा का जीवन हमें यह सिखाता है कि मरण भी जीवन का हिस्सा होता है और हमें इसे आत्मविश्वास के साथ स्वागत करना चाहिए। यह जीवन की प्राकृतिक प्रक्रिया है और हमें इसे सहने का तरीका सिखना चाहिए, जैसे कि हम जीवन की हर स्थिति का सामना करते हैं। राजमा के जीवन से हम यह सिखते हैं कि हमारे कार्यों और सेवा के माध्यम से हम अपने जीवन को मरण के बावजूद भी अद्वितीय बना सकते हैं और दूसरों के लिए सकारात्मक परिणाम प्राप्त कर सकते हैं।

निष्कर्ष 

तो दोस्तों आज हमने जीवन विलोम शब्द के बारे में जाना। में उम्मीद करता हूं आज का लेख आपको काफी पसंद आया होगा अगर लेख पसंद आया हो तो उसे सोशल मीडिया पर शेयर जरूर करे एवं ऐसे ही नए लेखो को पढ़ने के लिए वेबसाइट को सब्सक्राइब जरूर करे

धन्यवाद

FAQ


जीवन का विलोम क्या होता है?

जीवन का विलोम शब्द म्रत्यु है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *