उत्थान का विलोम शब्द क्या है ? Utthan ka Vilom Shabd in Hindi [2023]

Utthan ka Vilom Shabd

उत्थान का विलोम शब्द | Utthan ka Vilom Shabd in hindi | vilom shabd in hindi

Utthan ka Vilom Shabd: उत्थान का विलोम शब्द Patanआजकल की परीक्षाओं में हिंदी व्याकरण से संबंधित विभिन्न प्रकार के प्रश्न पूछे जाते हैं, जैसे कि विलोम शब्द, पर्यायवाची शब्द, संज्ञा, सर्वनाम, क्रिया, विशेषण, और अलंकार, आदि।

विद्यार्थियों के लिए हिंदी व्याकरण का ज्ञान परीक्षाओं में अच्छे अंक प्राप्त करने के लिए महत्वपूर्ण है। इस लेख में हम आपको Utthan ka Vilom Shabd बताएंगे, जिससे आपको इस विषय के प्रति समझ में मदद मिलेगी।

जैसे कि, “राम और श्याम एक-दूसरे के मित्र हैं। ‘मित्र’ का विलोम शब्द ‘दुश्मन’ है, अर्थात् राम और श्याम एक-दूसरे के दुश्मन नहीं हैं, वे दोस्त हैं।

Utthan ka Vilom Shabd क्या है?

उत्थान का विलोम शब्द – पतन
Utthan ka Vilom Shabd – Patan

विलोम शब्द किसे कहते है-vilom shabd in hindi

विलोम शब्द किसी शब्द के उल्टे अर्थ वाले शब्दों को कहते हैं। आम भाषा में, जो शब्द किसी अन्य शब्द के उल्टे अर्थ को व्यक्त करते हैं, उन्हें विलोम शब्द या विपरीतार्थक शब्द कहा जाता है।

उदाहरण के रूप में, हम एक शब्द ‘अच्छा’ लेते हैं। इसका विलोम शब्द ‘बुरा’ होता है, क्योंकि ‘बुरा’ शब्द ‘अच्छा’ के उल्टे अर्थ को दर्शाता है। इसी तरह, हर शब्द का अपना विलोम शब्द होता है, जिससे हम उनके विपरीतार्थक अर्थ को समझ सकते हैं।

इसी तरीके से, हम अन्य शब्दों के भी विलोम शब्द जान सकते हैं और हिंदी व्याकरण के विभिन्न पहलुओं को समझ सकते हैं। इससे हमारे भाषा के प्रयोग में सुधार होता है और हमें व्याकरण के माध्यम से सही संवाद करने में मदद मिलती है।

उ वर्ण से अन्य महत्वपूर्ण विलोम शब्द

उ वर्ण से अन्य महत्वपूर्ण विलोम शब्द नीचे दिए गए हैं :

उग्र का विलोम – सौम्य

उत्कर्ष का विलोम – अनुचित

उत्कृष्ट का विलोम – निकृष्ट

उत्तम का विलोम – अधम

उत्तर का विलोम – दक्षिण

उत्तरार्द्ध का विलोम – पूर्वार्द्ध

उतीर्ण का विलोम – अनुतीर्ण

उत्थान का विलोम – पतन

उत्पत्ति का विलोम – विनाश

उदय का विलोम – अस्त

उदार का विलोम – अनुदार

उद्यमी का विलोम – आलसी

उधार का विलोम – नक़द

उन्नत का विलोम – अवनत

उन्नति का विलोम – अवनति

उपकार का विलोम – अपकार

उपजाऊ का विलोम – बंजर

उपयुक्त का विलोम – अनुपयुक्त

उपयोग का विलोम – दुरूपयोग

See also  मित्र का विलोम शब्द क्या है । mitra ka vilom shabd [2023]

उपस्थिति का विलोम – अनुपस्थिति

उपाय का विलोम – निरुपाय

उर्वर का विलोम – ऊसर

उषा का विलोम – संध्या

ऊंचा का विलोम – नीचा

उपकार का विलोम शब्द क्या है | Upkar ka Vilom Shabd in hindi | vilom shabd in hindi

अपमान का विलोम शब्द क्या है | Apman Ka Vilom Shabd in hindi [2023]

बसंत ऋतु पर 10 वाक्य | 10 Lines on Spring Season in Hindi

उत्थान शब्द का अर्थ

भाषा हमारे साथी होती है, जो हमारी भावनाओं, विचारों, और ज्ञान को व्यक्त करने का माध्यम होती है। भाषा के बिना हम अपने
उत्थानविचारों को दूसरों के साथ साझा नहीं कर सकते हैं। इसलिए, भाषा का महत्व अत्यधिक होता है।

जब हम किसी शब्द का अर्थ जानते हैं, तो हम उसे सही तरीके से उपयोग कर सकते हैं और अपने विचारों को बेहतर तरीके से व्यक्त कर सकते हैं। “उत्थान” एक ऐसा शब्द है जिसका अर्थ हमारे जीवन में महत्वपूर्ण होता है।

“उत्थान” शब्द का अर्थ होता है “उत्तेजना” या “प्रोत्साहन”। यह एक शक्तिशाली शब्द है जो हमें कुछ करने के लिए प्रोत्साहित करता है। जब हम किसी के उत्थान का समर्थन करते हैं, तो हम उन्हें सशक्त और संवेगित महसूस करवाते हैं।

उत्थान का महत्व हर क्षेत्र में होता है, चाहे वो शिक्षा, संगठन, समाज, या रोजमर्रा की जिंदगी हो। यह एक प्रेरणा देने वाला शब्द है जो हमें उत्कृष्टता की ओर मोड़ता है।

इसलिए, हमें यह समझना चाहिए कि “उत्थान” शब्द का मतलब है कि हमें अपने लक्ष्यों की ओर बढ़ने के लिए आगे बढ़ने की साहस और प्रेरणा मिलती है। यह हमारे जीवन में सकारात्मक परिवर्तन और सफलता की दिशा में मदद कर सकता है।

“पतन” शब्द का मुख्य अर्थ होता है “गिरावट” या “नीचा गिरना”। यह शब्द आमतौर पर किसी के सामाजिक, आर्थिक, या व्यक्तिगत स्थान में गिरावट और कमी को सूचित करने के लिए प्रयुक्त होता है।

पतन शब्द का अर्थ

भाषा हमारे जीवन का महत्वपूर्ण हिस्सा होती है जो हमारे विचारों और भावनाओं को व्यक्त करने का माध्यम होती है। शब्दों का अर्थ समझना और सही तरीके से प्रयोग करना हमारे विचारों और संवादों को स्पष्ट और सहयोगी बनाता है। “पतन” एक ऐसा शब्द है जिसका अर्थ हमारे जीवन में महत्वपूर्ण संकेत देता है।

“पतन” शब्द का महत्व इसलिए है क्योंकि यह हमें आपसी सहयोग और सहानुभूति की ओर देखने के लिए प्रोत्साहित करता है। जब कोई व्यक्ति या समुदाय पतन का सामना कर रहा होता है, तो हमें उनके साथ होने की आवश्यकता होती है, उनके साथ संवाद करने की आवश्यकता होती है, और उनकी मदद करने की दिशा में हमें अपना सहयोग प्रदान करना चाहिए।

“पतन” का अर्थ है कि हमें व्यक्तिगत और सामाजिक स्तर पर एक-दूसरे का साथ देना और समर्थन प्रदान करना हमारे सभी लिए महत्वपूर्ण होता है, क्योंकि यह हमें एक सशक्त, समृद्ध, और सहमत समाज की दिशा में बढ़ने का मार्ग दिखाता है।

See also  उदय का विलोम शब्द ? Uday ka vilom shabd in hindi [2023]

उत्थान का समानार्थी शब्द

“उत्थान” के कुछ समानार्थी शब्द निम्नलिखित हैं:

उद्गम

उत्पत्ति

प्रारंभ

आरंभ

उत्कृष्टि

प्रेरणा

प्रेरणास्पद

प्रेरणादायक

आदिकाल

आरंभिक

उद्योग

प्रारंभिक

प्राग्ज्य

प्रागजन्म

प्रारम्भिक

ये शब्द “उत्थान” के समानार्थी हो सकते हैं और उसी समय के संदर्भ में उपयोग किए जा सकते हैं।

utthan ka vipritarthak shabd

“उत्थान” के 5 विपरीतार्थक शब्द इस प्रकार हैं:

पतन

गिरावट

अवसान

नीचाया

क्षय

उत्थान शब्द का वाक्य प्रयोग

वह अपने प्रयासों से नए उत्थानों को हासिल कर रहा है।

उसके उत्थान और संघर्षों के बावजूद, वह कभी हार नहीं मानता।

शिक्षा के क्षेत्र में नए उत्थान प्राप्त करने के लिए उसने सबसे मेहनत की है।

उसका सपना है कि वह अपने प्राध्यापकों के साथ नए उत्थान स्थापित करेंगे।

उत्थान के लिए नियमित अभ्यास करना जरूरी है।

समाज में उत्थान के लिए समर्थन की आवश्यकता है।

उसने अपने कैरियर में एक नया उत्थान लिया है और अब वह उसमें सफल हो रहा है।

उसके संघर्षों और उत्थानों का परिणाम उसके सफलता की ओर बढ़ रहा है।

उत्थान सफलता की कुंजी है, और वह इसे प्राप्त करने के लिए पूरी तरह से समर्थ है।

उसने एक समृद्धि योजना बनाई है जिसका उत्थान करने के लिए वह पूरी तरह से तैयार है।

उत्थान के बाद, उसने विशेषज्ञता क्षेत्र में अपनी पहचान बनाई है।

उत्थान के बिना, हर कोई सीमित हो जाता है और अपनी क्षमताओं का पूरा फायदा नहीं उठा सकता।

उसने उत्थान की ओर अपना पहला कदम रखा है, लेकिन अभी और भी दूर जाना है।

उत्थान उसके जीवन का महत्वपूर्ण हिस्सा बन गया है और उसे इसका सम्मान है।

उत्थान करने वाले लोग हमारे समाज के सुधारक और प्रेरणा स्रोत होते हैं।

पतन का वाक्य प्रयोग-patan ka vakya prayog

उसका पतन उसकी साफलता की ओर एक महत्वपूर्ण कदम था.

धन की लालसा ने उसके पतन का कारण बन दिया.

उसका पतन उसके लक्ष्य से दूर कर दिया.

समय के साथ उसका पतन हो गया और वह अकेला रह गया.

उसका पतन उसके अव्यवसायिक व्यवसाय के निराशाजनक परिणामों का परिणाम था.

उसका पतन उसकी अव्यवसायिक नौकरी के अच्छे संचालन की कमी की वजह से हुआ.

उसका पतन उसकी नियमित योग्यता के अभाव की वजह से हुआ.

उसका पतन उसके अनुशासन में कमी की वजह से हुआ.

उसका पतन उसकी अप्रियता के कारण हुआ.

उसका पतन उसके सामाजिक रिश्तों के खराब होने के चलते हुआ।

उत्थान का विलोम शब्द संस्कृत में

उत्थान का विलोम शब्द संस्कृत में ‌‌‌पतन:

उत्थान शब्द का मराठी में

उत्थान—न. १ उभें राहणें; उठणें. २ उदय. पुनरुत्थान = पुन्हां उठणें.

utthan ka paryayvachi

उत्थान का पर्यायवाची उत्कर्ष, प्रगति, उन्नयन

एक उभरते हुए व्यक्ति की कहानी

सुबह की पहली किरनों के साथ ही जगने वाला हर कोई अपने जीवन के नए दिन का स्वागत करता है, लेकिन कुछ लोग उठकर नहीं बल्कि उभरकर आते हैं। यह है वह अद्भुत कहानी एक ऐसे उभरते हुए व्यक्ति की, जिन्होंने अपने जीवन के हर कदम पर संघर्ष किया और आखिरकार सफलता प्राप्त की।

See also  अनाथ का विलोम शब्द क्या है | Anath Ka Vilom Shabd [2024]

शुरुआत का सफर

राज कुमार, एक सामान्य गाँव के छोटे से परिवार में पैदा हुआ था। उसके पिता कामगार थे और माता पिता की मदद करते हुए उसने अपना शिक्षा जीवन शुरू किया। छोटे से गाँव में पढ़ाई करते समय उसने अपने सपनों के बारे में सोचना शुरू किया, सपने जो उसके लिए बड़े थे।

उसका पढ़ाई के साथ ही काम करना भी चालू हो गया, लेकिन वह न हारा और न हिम्मत हारी। वह जानता था कि उसके सपनों को पूरा करने के लिए कठिनाइयाँ आएंगी, लेकिन उसका आत्मविश्वास बुलंद था।

संघर्ष का सफर

राज कुमार का सपना था कि वह एक अच्छे वक्ता बने और लोगों की मदद करें। इसके लिए उसने बड़ी मेहनत की और अध्ययन के बाद एक अच्छे वक्ता के रूप में नौकरी पाई। लेकिन जीवन ने उससे एक बड़ा संघर्ष किया।

उसकी नौकरी बहुत ही अधिक कठिनाइयों से भरपूर थी। उसके बॉस उससे हमेशा अत्यधिक काम करवाते थे और उसे उसके संघर्ष का सामना करना पड़ता था। लेकिन राज कुमार ने कभी हार नहीं मानी और हमेशा पूरी मेहनत करते रहे।

समय के साथ सफलता

धीरे-धीरे, समय के साथ राज कुमार ने अपने क्षेत्र में एक मान्यता प्राप्त की। उसका उद्घाटन वक्ता के रूप में प्रतिष्ठित हो गया और उसका सपना पूरा हो गया। लेकिन वह जानता था कि वह अभी भी बहुत कुछ सीख सकता था और उसका सफर आगे बढ़ता रहा।

राज कुमार ने अपनी सफलता को किसी को बताते हुए नहीं, बल्कि उसने वो सब किया जो उसके सपनों के लिए आवश्यक था। वह अपने सपनों के पीछे पूरी तरह लगे रहे, उन्हें हासिल करने के लिए किसी भी संघर्ष का सामना किया और अपने आत्मविश्वास को कभी नहीं हारने दिया।

सपनों की पूर्ति

आज, राज कुमार एक प्रमुख वक्ता है और उसका नाम देश और विदेश में जाना जाता है। उसका सपना पूरा हो गया है और वह अब अपने सपनों के साथ और भी उच्चाईयों को छू रहे हैं।

राज कुमार की कहानी हमें यह सिखाती है कि सपनों का पीछा करना और मेहनत से कठिनाइयों का सामना करना हमें सफलता की ओर ले जा सकता है। जीवन में संघर्ष आना तो स्वाभाविक है, लेकिन हार नहीं मानना और मेहनत करना हमारे सपनों को हकीकत में बदल सकता है।

राज कुमार की यह कहानी हमें यह भी याद दिलाती है कि सफलता के लिए हमें अपने आत्मविश्वास को हमेशा बनाए रखना चाहिए और हमें कभी भी हार नहीं माननी चाहिए। हर कदम पर मेहनत करने वाले व्यक्ति को एक दिन जरूर सफलता मिलती है, चाहे वह उभरते हुए व्यक्ति हो या फिर किसी बड़े उद्घाटन वक्ता के रूप में प्रतिष्ठित हो।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *